महिला हॉकी विश्व कप : भारत की नजरें क्वार्टरफाइनल बर्थ पर, स्पेन से होगा सामना

नई दिल्ली। एफआईएच महिला हॉकी विश्व कप में पूल बी में तीसरे स्थान पर रहने के बाद, भारतीय महिला हॉकी टीम रविवार को क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिए स्पेन से भिड़ेगी।

गोलकीपर सविता के नेतृत्व वाली भारतीय टीम ने टूर्नामेंट के पूल चरण में न्यूजीलैंड के खिलाफ 3-4 से हार का सामना करने से पहले क्रमशः इंग्लैंड (1-1) और चीन (1-1) के खिलाफ दो रोमांचक ड्रॉ खेले।

अब तक के अभियान पर सविता ने कहा, “हमें पता था कि पूल मैच वास्तव में कठिन होने वाले थे। हमने कड़ी मेहनत की और कभी हार नहीं मानी, लेकिन यह सिर्फ इतना है कि परिणाम हमारे पक्ष में नहीं रहे हैं। हालांकि, हमें अब पुरानी बात भूलकर आगे पर ध्यान देना चाहिए। हम अभी भी क्वार्टर-फ़ाइनल की रेस में हैं और क्वालीफाई करने के लिए अपना सब कुछ लगा देंगे।”

इस बीच, उप-कप्तान दीप ग्रेस एक्का ने कहा, “मुझे लगता है कि हमने जो तीन मैच खेले उनमें हम बहुत बेहतर खेल सकते थे। हमने पूल चरण में कई मौके बनाए, खासकर आखिरी मैच में, लेकिन हम उन मौकों को भुना नहीं पाए, इसलिए, हमें निश्चित रूप से सुधार करना होगा।”

घरेलू टीम स्पेन ने पूल चरण में दो जीत और एक हार दर्ज की। उन्होंने कनाडा के खिलाफ 4-1 से जीत के साथ अपने अभियान की शुरुआत की लेकिन अपने दूसरे मैच में अर्जेंटीना से 1-4 से हार गए। हालांकि, उन्होंने पूल सी में दूसरे स्थान पर रहने के लिए कोरिया पर 4-1 की जीत के साथ वापसी की।

पिछली बार जब भारत और स्पेन एफआईएच हॉकी प्रो लीग 2021/22 के दौरान भिड़े थे, तब भारत ने पहला मैच 2-1 से जीता, जबकि स्पेन ने इस साल की शुरुआत में भुवनेश्वर, ओडिशा में आयोजित डबल-हेडर के दूसरे चरण में 4-3 से जीत हासिल की।

स्पेन के खिलाफ मैच को लेकर भारतीय कप्तान सविता ने कहा, “स्पेन एक बहुत अच्छी टीम है और वे अपने घर पर खेल रहे हैं इसलिए यह एक चुनौतीपूर्ण मैच होगा। हालांकि, हम इस साल प्रो लीग में उनके खिलाफ खेले हैं, इसलिए हम इस बात से काफी परिचित हैं कि वे हाल के दिनों में कैसे खेल रहे हैं। लेकिन, कल ध्यान खुद पर होगा, हम अपनी योजनाओं को कैसे अंजाम देते हैं। हमें निश्चित रूप से उनके खिलाफ अपना ए-गेम खेलना होगा।”