खोया पाया केन्द्रों का सृजन, भूले भटके शिविर से होगा बिछड़ों का मिलन

(ब्यूरो) प्रयागराज:  देश के कोने कोने से भारी संख्या में श्रद्धालु/स्नानार्थी माघ मेला प्रयागराज में संगम स्नान हेतु आते हैं, जिनमें बच्चे, बूढ़े, बुजुर्ग सभी सम्मिलित होते हैं। मेला क्षेत्र में भारी भीड़ होने से श्रद्धालु प्रायः परिजनों से बिछुड़ जाते हैं जिनकी सहायता हेतु मेले में सेवा दल त्रिवेणी रोड़ दक्षिणी पट्टी माघ मेला पुलिस लाइन के बगल में स्थापित केन्द्रीय भूले भटके शिविर के माध्यम से निरन्तर पब्लिक एड्रेस सिस्टम के द्वारा एनाउन्स’ करते हुये बिछड़ों को उनके परिजनों से मिलवाने में मदद की जाती है। माघ मेला पुलिस द्वारा आगामी मुख्य स्नान पर्व मौनी अमावस्या में भारी संख्या में श्रद्धालुओं के संगम स्नान के दृष्टिगत मेला पुलिस द्वारा मेला क्षेत्र में 07 नये खोया पाया केन्द्र स्थापित कर भूले भटकों की मदद हेतु अभिनव प्रयास किया जा रहा है। सभी नव निर्मित खोया पाया केन्द्रों को विभिन्न सेक्टरों में बने स्नान घाटों पर पूर्व से बने वॉच टावर के समीप स्थापित किया गया है।

माघमेला, प्रयागराज_2023:  श्रद्धालुओं की मदद हेतु अभिनव प्रयास

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक माघ मेला डा0 राजीव नारायण मिश्र IPS द्वारा बताया गया कि केन्द्रीय भूले भटके शिविर को सफेद हवाई गुब्बारे से चिन्हित किया गया है, जो मेला पुलिस लाइंस के बगल में स्थित है और पूरे संगम क्षेत्र में एक अकेले गुब्बारे के रूप में चिन्हित हो रहा है। तथा 07 नव निर्मित खोया पाया केन्द्रों को स्नान घाटों के समीप हेल्प डेक्स के माध्यम से प्रदर्शित किया गया है।

1- खोया पाया केन्द्र जमुना पट्टी अक्षयवट

2- खोया पाया केन्द्र अक्षयवट घाट वीआईपी

3- खोया पाया केन्द्र संगम लोवर अक्षयवट चौराहा

4- खोया पाया केन्द्र मोरी घाट कल्पवासी

5- खोया पाया केन्द्र काली घाट (काली सड़क) कल्पवासी      6- खोया पाया केन्द्र हरिश्चन्द्र घाट प्रयागवाल

7- खोया पाया केन्द्र गंगोली शिवाला (संगम लोवर चौराहा) प्रयागवाल।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक माघ मेला के द्वारा बिछड़ों की सहायता हेतु मेला क्षेत्र में निम्नलिखित सहायक नम्बर उपलब्ध कराएं गए है, जिनकी सहायता से बिछड़े हुए अपने परिजन से मिल सकते हैं। 

1. मेला कंट्रोल रूम 9454401971

2.खोया पाया केंद्र 9919883534

3.भूले भटके शिविर 9453699379

Related Articles

Back to top button